Jaishankar Prasad Quotes in Hindi


Jaishankar Prasad Quotes in Hindi Language, About, Quotations, Thoughts, Sayings, Sms, Messages, Proverbs, Lines, Slogans, Teachings, Words, Updesh, Statement, Suvichar, Vichar, Shabd, Suktiyan, जयशंकर प्रसाद के विचार, हिंदी उद्धरण, नारे, उपदेश, शिक्षा, सूक्तियाँ, सुविचार 

Jaishankar Prasad Quotes 
  • शक्ति केंद्र यदि अधिकारों के संचय का सदुपयोग करता रहे, तो नियंत्रण भली भांति चल सकता है, नहीं तो अव्यवस्था ही उत्पन्न होगी ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • मानव स्वभाव है कि वह अपने सुख को विस्मृत करना चाहता है और वह केवल अपने सुख से सुखी नहीं होता। कभी कभी दूसरों को दु:खी करके, अपमानित करके, अपने मान को, सुख को प्रतिष्ठित करता है ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • मनुष्य के भीतर जो कुछ वास्तविक है, उसे छिपाने के लिए जब वह सभ्यता और शिष्टाचार का चोला पहनता है, तब उसे सँभालने के लिए व्यस्त होकर कभी - कभी अपनी आँखों में ही उसको तुच्छ बनना पड़ता है ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • भूला हुआ लौट आता है, खोया हुआ मिल जाता है, परन्तु जो जान- बूझकर भूल-भूलैया तोड़ने के अभिमान से उसमें पहुंचता है, वह चक्रव्यूह में स्वयं मरता है और दूसरों को भी मारता है ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • नारी की करुणा अंतर्जगत का उच्चतम विकास है, जिसके बल पर समस्त सदाचार ठहरे हुए हैं ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • जीवन में सामंजस्य बनाये रखने वाले उपकरण तो अपनी सीमा निर्धारित रखते हैं, परन्तु आवश्यकता और कल्पना भावना के साथ घटती-बढ़ती रहती ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • अतीत सुखों के लिए सोच क्यों? अनागत भविष्य के लिए भय क्यों और वर्तमान को मैं अपने अनुकूल बना ही लूँगा, फिर चिंता किस बात की ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • विनय और कष्ट सहने का अभ्यास रखते हुए भी अपने को किसी से छोटा नहीं समझना चाहिए और बड़ा बनने का घमंड अच्छा नहीं होता ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
  • मानव जीवन लालसाओं से बना हुआ सुन्दर चित्र है. रंग छीनकर उसे रेखाचित्र बना देने से संतोष नहीं होगा ~ जयशंकर प्रसाद / Jaishankar Prasad
How do you find these quotes ? Feel free to share your views.