Monday, March 28, 2016

Poem on Women in Hindi

Poem on Women in Hindi. Woman Power Poetry, Indian Lady Rhymes, Bhartiya Nari Shakti ki Mahima par Kavita, Mahila Diwas Shayari, Aurat Slogans, Female Lines, Stree. भारतीय नारी शक्ति पर कविता, महिला.

नारी तुम हो सबकी आशा

किन शब्दों में दूँ परिभाषा?
नारी तुम हो सबकी आशा.

सरस्वती का रूप हो तुम
लक्ष्मी का स्वरुप हो तुम
बढ़ जाये जब अत्याचारी
दुर्गा-काली का रूप हो तुम.

किन शब्दों में दूँ परिभाषा?
नारी तुम हो सबकी आशा.

खुशियों का संसार हो तुम
प्रेम का आगार हो तुम
घर आँगन को रोशन करती
सूरज की दमकार हो तुम.

किन शब्दों में दूँ परिभाषा?
नारी तुम हो सबकी आशा.

ममता का सम्मान हो तुम
संस्कारों की जान हो तुम
स्नेह, प्यार और त्याग की
इकलौती पहचान हो तुम.

किन शब्दों में दूँ परिभाषा?
नारी तुम हो सबकी आशा.

कभी कोमल फूल गुलाब सी
कभी शक्ति के अवतार सी
नारी तेरे रूप अनेक
तू ईश्वर के चमत्कार सी.

किन शब्दों में दूँ परिभाषा?
नारी तुम हो सबकी आशा.

By Monika Jain 'पंछी'
 
Women are symbol of love, care, sacrifice, compassion, gentleness, strength and values. They are smart, beautiful, sensual, strong, caring, surviving, giving, tolerant and powerful. The power of a woman is endless. They are backbone of the earth. They give life to the world. From morning to night they perform multitasks. They can do almost anything they put their mind to. They smile even during stress and trouble. They are epitome of strength. As a mother, wife, sister, daughter, friend they play various vital roles till their last breath with full dedication. They are fountain of life. The above poem is dedicated to all the women of this universe.