Monday, June 20, 2016

Poem on Female Foeticide in Hindi

Poem on Stop Female Foeticide in Hindi for Kids, Feticide, Fetus Abortion Cry, International Foetus Day, Killing Unborn Baby Slogans, Poetry, Rhymes, Kavita.
 
Poem on Female Foeticide in Hindi

कलियों को खिल जाने दो

कलियों को खिल जाने दो
मीठी ख़ुशबू फ़ैलाने दो
बंद करो उनकी हत्या अब
जीवन ज्योत जलाने दो।

कलियाँ जो तोड़ी तुमने तो
फूल कहाँ से लाओगे?
बेटी की हत्या करके तुम
बहु कहाँ से लाओगे?

माँ धरती पर आने दो
उनको भी लहलाने दो
बंद करो उनकी हत्या अब
जीवन ज्योत जलाने दो।

माँ दुर्गा की पूजा करके
भक्त बड़े कहलाते हो
कहाँ गयी वह भक्ति जो
बेटी को मार गिराते हो।

लक्ष्मी को जीवन पाने दो
घर आँगन दमकाने दो
बंद करो उनकी हत्या अब
जीवन ज्योत जलाने दो

By Monika Jain 'पंछी'

How is this poems about female foeticide? To read the english version of this poem click here.