Wednesday, December 21, 2016

Poem on Blood Donation in Hindi

विश्व रक्तदान दिवस पर कविता, महादान शायरी, खून. Poem on World Blood Donation Day in Hindi. Donating Slogans, Donor Poetry Lines, Rakt Daan Maha Daan Rhymes.
Poem on Blood Donation in Hindi
अच्छा लगता है

माँ!
बात नाराज़ होने की नहीं है
गर्व करने की है माँ!

तेरा बेटा रक्त नहीं देता
दुआएँ लेता है
तुम्हारी ही जैसी कई माँओं की।

माँ!
बात चिन्तित होने की नहीं है
बल्कि समझने की है माँ!
रक्तदान से कोई कमजोरी नहीं होती
वरन, किसी की जिंदगी बच रही होती है।

माँ!
दान की गयी रक्त की मात्रा
हमारा शरीर निर्मित कर लेता है
महज अगले 24 घंटो में
और पूरे शरीर में फ़ैल जाती है
नए रक्त के साथ, ऊर्जा और स्फूर्ति भी
और पहुँच जाता है
महादान का आनन्द...रोम रोम में।

माँ!
तीन महीने में, रक्तदान कर सकते हैं
तुम भी कर के देखो माँ!
अच्छा लगता है।

By Randhir 'Bharat' Chaudhary

To read the english version of this poem about blood donation click here