Tuesday, February 12, 2013

Poem on Apple in Hindi



Keywords : Poem on Apple Fruit in Hindi for Kids, Apples, सेब पर हिंदी बाल कविता, शायरी, Seb par Bal Kavita, Children Poetry, Fruit, Fruits, Shayari, Sms, Messages, Slogans, Nursery Rhymes, Poems

(1)

मैं हूँ मीठा-मीठा सेब 
भर लो मुझसे अपनी जेब 
मुझको खाओ तुम रोजाना  
डॉक्टर के घर कभी ना जाना 
रोगों को मैं दूर भगाता 
सबके मन को मैं हूँ भाता 

(2)

मम्मी को है प्यारा सेब 
पापा का भी दुलारा सेब 
बहन भी है इसकी दीवानी 
नहीं है कोई इसका सानी 
दादा चाव से खाते हैं 
दादी को ललचाते है 
मुझको भी भाता है सेब 
लाल लाल रसीला सेब 

Monika Jain 'पंछी'