Wednesday, January 11, 2017

Poem on Basant Ritu in Hindi for Kids

बसंत पंचमी पर कविता, ऋतुराज वसंत गीत, मधुमास शायरी. Poem on Basant Ritu in Hindi for Kids. Spring Season Rhymes Lines, Vasant Panchami Festival Slogans, Poetry.
 Poem on Basant Ritu in Hindi for Kids

ऋतुओं की रानी है आई

ऋतुओं की रानी है आई
धानी चुनर अपने संग लायी
जिसे ओढ़ धरती मुस्काई
कण-कण में उमंग है छायी।

डाल-डाल नव पल्लव आया
जैसे बचपन फिर खिल आया
रंग-बिरंगे फूलों पर
देखो! भँवरा फिर मंडराया।

तितली भी मुस्काती है
बहती हवा बासंती है
नील गगन में उड़ते पंछी
के मन को हर्षाती है।

रंग-बिरंगे फूल खिले हैं
पीले, लाल, गुलाबी, हरे हैं
कोयल की कूंकूं के संग
स्वर गीतों के भी बिखरे हैं
स्वर गीतों के भी बिखरे हैं।

By Monika Jain 'पंछी'

(19/03/2013)

Watch/Listen the video of this poem about Spring Season (Basant Ritu) in my voice :