Saturday, March 23, 2013

Poem on Cricket in Hindi


Keywords : Poem on Indian Cricket in Hindi, Victory of India in Cricket World Cup 2011, Kavita, Shayari, Games, Game, Poetry, Slogans, Messages, हिंदी कविता, विश्व क्रिकेट कप , भारत, विजय, जीत, शायरी, Sms

यह रचना मैंने Cricket World Cup 2011 में India की जीत के उपलक्ष्य में अपने एक क्रिकेट प्रेमी दोस्त के कहने पर लिखी थी. अपनी ये पूरानी रचना क्रिकेट प्रेमियों को समर्पित कर रही हूँ.

राम की सेना ने जीती थी रावण की लंका 
धोनी की सेना ने फिर से जीती है श्रीलंका 

कोई भी ना टिक पाया देश की जीत के आड़े
मुंबई के मैदान में जब भारत के सिंह दहाड़े

बज गए ढोल, बज गए बाजे और बजे नगाड़े
दुनिया के नक़्शे पर हमने जीत के झंडे गाड़े

देश प्रेम के ऐसे दृश्य कहाँ देखने मिलते हैं
होठों पे मुस्कान और आँखों से अश्रु छलकते हैं

चहुँ दिशाओं से बस जयघोष के बोल निकलते हैं
धोनी के वीर धुरंधर जब विजय के पथ पे चलते हैं

देश प्रेम की इस धारा को कभी ना बुझने देंगे
चाहे हो कोई भी जंग तिरंगा कभी ना झुकने देंगे

विश्व विजय के बढते कदम कभी ना रुकने देंगे
अगला विश्व कप भी अब भारत को लाकर देंगे


- Monika Jain 'पंछी'