Monday, June 17, 2013

Poem on Rainy Season in Hindi


Poem on Rainy Season in Hindi, Varsha Ritu, Barkha Rani, Barish, First Rain, Rainfall, Shower, Love Memories, Kavita, Shayari, Poetry, Sms, Messages, Slogans, हिंदी कविता, पहली बारिश, बरखा रानी, वर्षा, यादें 

ये बारिश की बूंदे 
सिर्फ पानी की बूंदे नहीं है मेरे लिए 
इनमें बसे हैं, ना जाने कितने लम्हें 
जो जीए थे मैंने सिर्फ तेरे लिए 

मेरी आँखों पर इनकी छुअन 
जगा देती है उन ख्वाबों को 
जो हम तुम मिलकर देखा करते थे 
और होठों पर इनका स्पर्श पाकर 
गुनगुनाने लगती हूँ वो सारे गीत 
जो तुम बस मेरे लिए गाते थे 

ये सिर्फ मुझे नहीं भिगोती 
भिगो देती हैं मेरी रूह को कुछ ऐसे 
बुझते अंगारों पर डाले हो 
घी के छींटे किसी ने जैसे 

काश! मौसम की इस पहली बारिश को 
देख पाती तुम्हारे साथ 
जीती उन सारे लम्हों को फिर से 
तेरे हाथों में देकर अपना हाथ 

Monika Jain 'पंछी'