Wednesday, September 18, 2013

Hasya Kavita in Hindi


Hasya Ras Kavita in Hindi, Funny Poem, Vyang, Humor, Laughter, Humorous, Satire, Hasi Majak, Hasna Mana Hai, Hasna Jaruri Hai, Joke, Poetry, Shayari, Lines, Sms, Messages, Slogans, हास्य हिंदी कविता, हास्य रस, व्यंग, हँसना जरुरी है, हँसना मना है, हंसी मजाक, शायरी 

दोस्तों ने कहा 
ट्राइ करो कभी हास्य व्यंग्य
हमने कहा इसमें है 
हमारा हाथ तंग. 

अरे! एक कोशिश तो 
करके देखो 
थोड़े हंसी के फव्वारे भी कभी 
अपनी वाल पे फेंको.

हमनें कहा 
पढ़कर हमारी हास्य कविता 
गर किसी को हंसी ना आई 
तो बैठे बिठाये हो जाएगी 
हमारी जग हंसाई. 

अब वाल पर हम 
बैकग्राउंड हंसी तो चला नहीं सकते 
हँसना मना है कहकर 
लोगों को जबरन हंसा तो नहीं सकते. 

यहाँ लाफ्टर शोज के जजेज
नहीं बैठे हैं 
बिन बात के हा-हा-हा करने के 
किसी ने पैसे नहीं ऐंठे है. 

गर एक को भी हंसी ना आई 
तो हमारी आँखें भर आएगी 
झाँसी की रानी बनकर 
पायी है हमने जो इज्जत 
तुम्हारे इस हास्य व्यंग के 
आईडिया से 
मिट्टी में मिल जाएगी.

तम्हारा आईडिया मुझे 
लग रहा फ्लॉप है 
सड़े अंडे और टमाटर खाने का 
हमें नहीं शौक है. 

दोस्त ने कहा तो चलो 
हम एक काम करते हैं 
तुम्हारी पहली कविता का टाइटल 
हँसना जरुरी है रखते हैं. 

कोई तो तुम पर 
तरस खा ही लेगा 
दांत दिखाए ना दिखाए 
पर जरा सा मुस्कुरा ही लेगा 

नहीं तो 
हम एक जकास काम करेंगे 
फर्जी आई डी से कमेंट बॉक्स को 
हा हा हा हा हा से भर देंगे. 

ना तुम्हारी कमाई 
इज्जत कहीं जाएगी 
हंसी ना आई किसी को तो भी 
तुम्हारी कविता 
हास्य कविता कहलाएगी. 

Monika Jain 'पंछी'