Friday, October 10, 2014

Swami Ramtirth Quotes in Hindi


Swami Ramtirth Quotes in Hindi Language, Rama Tirtha ke Vichar, Updesh, Quotations, Thoughts, Slogans, Lines, Sayings, Sms, Messages, Proverbs, Words, Teachings, Shiksha, Preaching, Statements, Suvichar, Thinking, स्वामी रामतीर्थ के विचार, उपदेश, शिक्षा, हिंदी उद्धरण, सुविचार 

Swami Ramtirth Quotes
  • असली उपवास का अर्थ है अपने को सारी स्वार्थपूर्ण कामनाओं से रहित कर देना जिससे उन्हें किसी प्रकार का पोषण न मिले और आप उनसे पूर्णतया: मुक्त हो जाएँ ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • संसार के सभी ग्रंथों को उसी भाव से ग्रहण करना चाहिए, जिस प्रकार रसायन शास्त्र का हम अध्ययन करते हैं और अपने अनुभव के अनुसार अंतिम निश्चय तक पहुँचते हैं ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • कोई भी मनुष्य उन्नति नहीं कर सकता, जब तक कि उसमें आत्मबल का विश्वास न हो. जिसमें यह विश्वास अधिक है, वह स्वयं भी बढ़ा है और औरों को भी आगे बढ़ाता है ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • दुनिया की चीजों में सुख की तलाश फ़िज़ूल है. आनंद का ख़ज़ाना तो हमारे अन्दर है ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • वही मनुष्य नेता बनने योग्य होता है जो अपने सहायकों की मुर्खता, अपने अनुगामियों के विश्वासघात, मानव जाति की कृतघ्नता और जनता की गुण ग्रहण हीनता की कभी शिकायत नहीं करता ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • अभिलाषाओं से ऊपर उठ जाओ, वे पूरी हो जायेगी. मांगोगे तो उनकी पूर्ति तुमसे और दूर होती जायेगी ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • दुखों में भी सुख की अनुभूति चाहते हो तो हंसमुख बनो ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • कृत्रिम प्रेम बहुत दिनों तक नहीं टिक सकता. स्वाभाविक प्रेम की नक़ल नहीं की जा सकती ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • त्याग के अतिरिक्त और कहाँ वास्तविक आनंद मिल सकता है. त्याग के बिना न ईश्वर-प्रेरणा हो सकती है और ना प्रार्थना ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • किसी देश की उन्नति छोटे विचार के बड़े आदमियों पर नहीं, किन्तु बड़े विचार के छोटे आदमियों पर निर्भर है ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
  • सदा स्वतंत्र कार्यकर्त्ता और दाता बनों. अपने चित्त को कभी भी याचक तथा आकांक्षी की दशा में ना डालो ~ स्वामी रामतीर्थ / Swami Ramtirth 
How are these hindi quotes of Swami Ramtirth ? Feel free to submit your views.