Monday, February 23, 2015

Muskmelon Benefits in Hindi


Muskmelon Fruit Health Benefits in Hindi, Nutrition Facts Information, Nutritional Value, About Cantaloupe Seeds Medicinal Uses, Kharbooje Ke Fayde, Kharbuja, Pregnancy, Weight Loss, खरबूजे के लाभ.

Muskmelon Benefits

  • मस्क मेलन मतलब कस्तूरी जैसा सुगन्धित. गर्मियों में आने वाला यह फल स्वाद और सुगंध में लाजवाब है, जिसमें सेहत के कई राज छिपे हुए हैं. इसलिए गर्मियों में इसका पर्याप्त सेवन किया जाना चाहिए. 
  • इसमें 95 % पानी और बाकी मिनरल्स होते हैं.
  • इसमें शुगर कैलोरी की मात्रा अधिक नहीं होती है. 
  • यह एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन सी का अच्छा स्त्रोत है.
  • इसमें पाया जाने वाला विटामिन ए त्वचा को चमक देता है. चेहरे के दाग धब्बों और झाइयों से मुक्ति के लिए खरबूजे का रस लगाना चाहिए.
  • खरबूजे में उपस्थित कैल्शियम और फास्फोरस हड्डियों को मजबूत बनाता है. 
  • इसमें लोह तत्व की अधिकता होती है जिससे शरीर में खून की वृद्धि होती है और रक्त विकार दूर होते हैं.
  • गर्मियों में बार-बार लगने वाली प्यास को बुझाने के साथ ही शरीर की गर्मी को पसीने के रूप में बाहर निकालता है. शरीर से पसीना निकलने के कारण आई पानी की कमी को भी पूरा करता है और लू से बचाता है. 
  • यह शरीर को ठंडक पहुँचाता है, ह्रदय और गले की जलन को दूर करता है.
  • यह शरीर की थकान को दूर कर तृप्ति पहुँचाता है.
  • खरबूजा रक्तचाप को नियंत्रित करता है. सीने में दर्द की शिकायत को यह दूर करता है और ह्रदय रोगों की आशंका को घटाता है.
  • यह किडनी की सफाई का कार्य भी करता है और मूत्र और पथरी सम्बन्धी समस्यायों को दूर करता है.
  • यह मोटापे को भी नियंत्रित करता है और कैंसर से बचाव करता है. 
  • खाली पेट पके हुए खरबूजे का सेवन लाभदायक है. इसमें रेशों की प्रधानता होती है. जिससे कब्ज दूर होता है.
  • यह यकृत की सूजन को दूर कर उसे स्वस्थ रखता है. 
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं में यह दूध की मात्रा को बढ़ाता है. 
  • खरबूजे को चबाने से दांतों का सौन्दर्य बढ़ता है और दांतों पर पपड़ी नहीं जमती है.
  • खरबूजे के बीज भी स्वास्थ्य की दृष्टि से बेहद उपयोगी है. लू लगाने पर बीजों का लेप सिर व शरीर पर करने से आराम मिलता है.
  • इसके बीजों की गिरी मिठाइयों की सजावट में काम आती है.

Note : Consult your doctor before using any remedy stated here. If you are also aware about any other health benefits of muskmelon then feel free to submit here.


Thursday, February 19, 2015

Poem on Wind in Hindi


Poem on Wind in Hindi Language, Air, Prem ki Hawa, Vayu, Sameer, Pyar ki Pawan, Breeze, Love, Kavita, Poetry, Sher o Shayari, Muktak, Ghazal, Nazm, Composition, Lines, Slogans, Geet, Lyrics, Song, Quotes, Thoughts, Sayings, Sms, Messages, Words, Nare, Statement, Status, Proverbs, Sayings, प्रेम की हवा, वायु, पवन, समीर, प्यार, हिंदी कविता, नज़्म, गज़ल, शेर ओ शायरी, नारे, गीत, मुक्तक, स्लोगन

हवा की सरगोशियाँ 

आजकल हवाएँ क्यों अपनों सी लगती है 
और ये दुनिया कुछ रंगीन सपनों सी लगती है
दिल की जमीं पर उतरा है फ़रिश्ता कोई 
जिसकी धड़कनें मेरी धड़कनों सी लगती है. 

करती हैं हवाएँ जब कानों में सरगोशियाँ 
तो लगता है जैसे तूने कुछ कहा है 
साँसें तेरी खुशबूं पहचान लेती है 
कुछ ऐसा तेरा असर हो रहा है. 

जुल्फें उड़ाते हवाओं के झोंके 
तेरी अंगुलियाँ सुलझने से रोके 
सर-सर सरकता दुपट्टा चला है 
ह्रदय हो झंकृत तुझसे मिला है. 

साँसों में उठती लहरों को थाम 
चली है हवाएँ मुझको भिगाने 
भीगेंगे इनसे मेरे होंठ जब 
ये चूमेगी उनको तुझ तक पहुँचाने. 

रात में देती है थपकी हवाएँ 
तेरी गोद में जैसे झपकी सी आये 
मीठे से सपनों में मीठा सा तू 
मुझे और पास जैसे अपने बुलाये. 

सूरज की रश्मि लिए जो हवा 
आती है जैसे कि तूने हो छेड़ा 
अलसाई आँखों पे उसकी छुअन 
होता है तुझ संग मेरा हर सवेरा. 

By Monika Jain ‘पंछी’ 

How is this poem on wind of love? Feel free to share your views. 

Saturday, February 14, 2015

Essay on Social Media in Hindi


Essay on Social Media in Hindi Language, Impact on Women, Role of Facebook, Twitter, Social Networking Sites, Pros, Cons, Advantages, Disadvantages, Women Empowerment, Rights, Cyber Crimes, Article, Nibandh, Speech, Bhashan, Paragraph, Lekh, Anuched, Matter, Content, Write Up, Thoughts, Quotes, Lines, Slogans, Sms, Messages, Words, Sayings, Status, सोशल नेटवर्किंग साइट्स, सोशल मीडिया, फेसबुक, ट्विटर, महिलाएँ, निबंध, भाषण, अनुच्छेद, लेख, आलेख


सोशल मीडिया और महिलाएँ
(आधी आबादी में प्रकाशित) 

तुर्क के उपप्रधानमंत्री बुलेंट एरिंक का एक भाषण में कहना ‘शालीनता बहुत महत्वपूर्ण है, महिलाओं को सार्वजनिक रूप से नहीं हँसना चाहिए’, और इस बेतुके बयान के बाद से ही तुर्की महिलाओं द्वारा बड़ी संख्या में सोशल मीडिया पर अपनी हँसती हुई तस्वीरें पोस्ट करना और ‘कहकहा’ हेशटैग के अंतर्गत लाखों ट्वीट करना यह अहसास दिलाने के लिए काफी है कि सोशल मीडिया ने ‘व्हाट्स ऑन योर माइंड’ के जरिये महिलाओं को अपनी घुटन, भावनाओं, आक्रोश, गुस्से, समर्थन और विरोध सभी को खुल कर व्यक्त करने का एक नया आसमान दिया है, जिसके जरिये वह सदियों से अपनी दासता के विरुद्ध चली आ रही जंग को मुकाम तक पहुँचाने के लिए नयी ऊर्जा दे सकती है. 

गौरतबल है कि तुर्क में ट्विटर का इस्तेमाल करने वाली महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा है और इससे पूर्व भी तुर्क में बस और ट्रेन में जानबूझकर पैर पसारकर बैठने और पास बैठी महिला को सिकुड़कर बैठने को मजबूर करने वाले पुरुषों के विरुद्ध सोशल मीडिया पर ‘डॉन्ट ऑक्यूपाई माई स्पेस’ कैंपेन चलाया जा चुका है, जिसमें ऐसे पुरुषों की फोटोज शेयर कर समूचे विश्व को इस समस्या के प्रति जागरूक किया गया था.

भारत में लगभग 11.2 करोड़ फेसबुक यूजर्स हैं और संचार क्रांति के इस युग में सोशल मीडिया परिवर्तन के एक बहुत बड़े कारक के तौर पर उभरा है. और स्वाभाविक है कि घर बैठे ही सारी दुनिया से जुड़ने के इस उपक्रम का महिलाओं के जीवन पर भी एक व्यापक प्रभाव परिलक्षित होता है. हालाँकि भारत में पुरुष और महिला यूजर्स का अनुपात 75:25 ही है पर फिर भी घरेलु महिलाओं के लिए घर बैठे ही दुनिया के कई अच्छे लोगों से जुड़ने, अपने विचारों और अपनी कला को अभिव्यक्त करने, नयी-नयी जानकारियां प्राप्त करने और अपनी समस्यायों के समाधान ढूंढने की दिशा में सोशल मीडिया बेहद कारगर सिद्ध हो रहा है.

शादी के बाद महिलाओं के बचपन और कॉलेज के लगभग सभी दोस्त छूट जाते हैं, पर उन बिछड़े दोस्तों को मिलाने और उनसे संपर्क साधने में फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स की अहम् भूमिका है. महिलाएं घर से शुरू अपने छोटे-छोटे बिज़नस या आर्टवर्क के लिए भी सोशल मीडिया के जरिये सही ग्राहकों तक पहुँच सकती है. 

पुलिस और प्रशासन से न्याय पाने में असफल महिलाओं के लिए भी न्याय प्रक्रिया को त्वरित करने में सोशल मीडिया एक उपयोगी हथियार के रूप में उभरा है. देहली के चर्चित निर्भया केस में समूचे देश में बलात्कारियों के विरुद्ध क्रांति की अलख जगाने में सोशल मीडिया की प्रमुख भागीदारी रही, जिसने प्रशासन को महिलाओं की सुरक्षा हेतु नए कानून बनाने की दिशा में सोचने पर विवश किया. 

उत्तर प्रदेश में एक महिला सब इंस्पेक्टर का जब उसके ही सीनियर अधिकारी ने यौन उत्पीड़न किया और जब मामले पर सुनवाई ना हुई तो महिला पुलिसकर्मी ने फेसबुक पर एक पेज बनाया, जिसे जबरदस्त समर्थन मिला और अधिकारियों को शिकायत की जांच करने के लिए मजबूर होना पड़ा. आरुषी मर्डर, जेसिका लाल हत्याकांड और ऐसे ही कई और मामलें हैं जिनमें सोशल मीडिया जनाक्रोश की अभिव्यक्ति का एक सशक्त और प्रभावी माध्यम बनकर उभरा है. इनमें से कई मामलों में इन्साफ भी मिला है. 

कुछ लड़कियों द्वारा राह चलते छेड़छाड़ करने वाले शरारती तत्वों के वीडियो बनाकर भी यूट्यूब और फेसबुक पर अपलोड किये जा रहे हैं और इन शरारती तत्वों की जबरदस्त किरकरी हो रही है, और पुलिस पर भी त्वरित कार्यवाही का दबाव पड़ रहा है. 

कुल मिलाकर सोशल मीडिया महिलाओं की अभिव्यक्ति, अस्तित्व, मुक्ति, यौन शोषण, पितृ सत्ता और अन्य सभी सामाजिक अन्यायों के विरुद्ध लड़ाई को नए आयाम दे रहा है, जिसका व्यापक असर निश्चित रूप से आने वाले दिनों में देखा जा सकता है.

पर सकारात्मक प्रभावों के साथ ही फेसबुक व अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट्स के नकारात्मक प्रभाव भी बड़े पैमाने पर नज़र आने लगे हैं. इन दिनों तो महिलाओं से सम्बंधित साइबर क्राइम्स की बाढ़ सी आ गयी है. सच कहा जाए तो महिलाओं का जीवन आसान नहीं है, फिर चाहे वह वास्तविक दुनिया हो या फिर फेसबुक व अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट्स की वर्चुअल दुनिया. 

जिस तरह महिलाएँ आज सड़क, कार्यस्थल, कॉलेज, स्कूल यहाँ तक कि अपने घर पर भी सुरक्षित नहीं है, उसी तरह सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी महिलाओं को बहुत ज्यादा सतर्क और संभल कर रहने की जरूरत है. महिलाओं द्वारा बरती गयी जरा सी लापरवाही उन्हें बड़ी भारी पड़ सकती है. 

फेसबुक पर लगभग हर दूसरी महिला को इनबॉक्स और कमेंट बॉक्स में आने वाले अश्लील संदेशों से रूबरू होना पड़ता है. बीते दिनों यूपी में एक कंप्यूटर सेंटर संचालक ने परीक्षा का फॉर्म भरने आई एक बीकॉम छात्रा का ईमेल आईडी बनाकर उसे दिया. उसके जाने के बाद उसके ईमेल आईडी और फोटो का इस्तेमाल कर एक फेसबुक आईडी बनाया और इस आईडी पर अश्लील फोटोज और पोस्ट्स डाल दी. जिसका पता छात्रा को अपना ईमेल अकाउंट चेक करने पर लगा. इसी तरह नोएडा में रहने वाली एक युवती के हैदराबाद में इंजीनियरिंग के दौरान उसके साथ पढ़ने वाले एक सहपाठी ने एकतरफा प्रेम के चलते इग्नोर किये जाने पर फेसबुक पर एक फर्जी आईडी बनाकर उसके मोबाइल नंबर और अश्लील तस्वीर डाल दी. जब लड़की को कई अजनबी लड़कों के फोन आने लगे तो उसके पैरों तले जमीन ही खिसक गयी. 

फेसबुक पर अपनी अच्छी से अच्छी सेल्फीज और पिक्स शेयर कर ज्यादा से ज्यादा लाइक पाने का जूनून इस कदर हावी है कि इसके चलते कॉलेज गर्ल्स अपनी बॉडी इमेज को लेकर बहुत कांशस होती जा रही है और वजन कम करने के फेर में ईटिंग डिसऑर्डर का शिकार हो रही है. एलबम्स या अपने कंप्यूटर में पिक्स को कैद करने की तुलना में उनका शेयर किया जाना बेहतर है पर ये देखना बहुत जरुरी है कि हम उन्हें जिन लोगों के बीच शेयर कर रहे हैं वे कितने विश्वसनीय हैं और उनकी सोच का स्तर क्या है. 

सोशल मीडिया के के जरिये दुनिया भर में क्राइम और वेश्यावृत्ति को भी बढ़ावा मिल रहा है. तहकीकात में पता चला है कि फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स का उपयोग युवतियों और महिलाओं को फंसाने में किया जा रहा है. मानव तस्करी करने वाले माफिया सोशल मीडिया के माध्यम से काम देने के बहाने युवतियों और महिलाओं को फंसाते हैं और उन्हें कैद कर वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर करते हैं. पहले इन लोगों को खुद जाकर महिलाओं और ग्राहकों से मिलना पड़ता था, पर सोशल मीडिया ने इनका काम आसान कर दिया है. और पुलिस के लिए इन अपराधियों को पकड़ना और भी मशक्कत भरा काम हो गया है. 

पटना में तो एक आईपीएस पुलिस अधिकारी का ही एक व्यक्ति ने फर्जी अकाउंट बना लिया और लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाने के साथ-साथ ट्रस्ट में दान करने के नाम पर भी लाखों रुपये ऐंठ लिए. 

फेसबुक पर अनजान लोगों से दोस्ती बढ़ाना और प्यार कर बैठना भी कई मामलों में खतरनाक साबित हो रहा है. किशोर-किशोरियों के भटकने में भी सोशल मीडिया की नकारात्मक भूमिका देखी जा सकती है. वर्चुअल दुनिया के खुलेपन और आज़ादी से प्रभावित हो किशोरियां और युवतियां जाने-अनजाने ही कई समस्याओं को आमंत्रित कर रही है.

पुणे में फेसबुक पर चैटिंग के दौरान एक युवती को एक युवक से प्यार हो गया. चैटिंग से बातें फ़ोन तक और फिर मुलाकात तक पहुँची. युवक ने युवती को अपने घर ले जाकर उसका कई दिनों तक यौन शोषण किया. युवती के वापस जाने पर युवक ने उसकी सोने की अंगूठी भी छीन ली. युवती जब गर्भवती हो गयी तो उसने युवक से संपर्क करने की कोशिश की पर उसे बदसलूकी का सामना करना पड़ा.

इसी तरह बेंगलुरु की एक 20 वर्षीय छात्रा की मुलाकात २ वर्ष पूर्व फेसबुक पर एक लड़के से हुई. दोस्ती प्यार में बदल गयी पर लड़की के घरवालों को यह रिश्ता मंजूर नहीं था. जिसके चलते लड़की ने लड़के से रिश्ता तोड़ दिया. इस पर लड़के ने उस लड़की की न्यूड तस्वीरें पोर्न साईट पर डाल दी. लड़की के निजी पलों की ये तस्वीरें उसने छिप-छिप कर खींच ली थी. लड़की को जब अजीबोगरीब फोन कॉल्स आने लगे और एक अनजान लड़के ने जब उसकी ही न्यूड तस्वीर उसे भेजी तब उसे इस बारे में पता चला. 

हालाँकि फेसबुक से शुरू होने वाले प्यार के सभी मामलों का सिर्फ दु:खद अंत ही नहीं होता. फेसबुक के जरिये मिले कई युवक-युवतियों ने प्रेम और शादी की अनूठी मिसाल भी पेश की है. अमेरिका के इंडियाना प्रांत की युवती ने जो कि वहाँ एक होटल में मैनेजर है, गुजरात के एक कम पढ़े-लिखे किसान से अपने प्रेम प्रसंग को शादी में परिणित किया. वह भारतीय संस्कृति से बहुत प्रभावित हुई और दोनों ने हिन्दू रीति-रिवाज से विवाह किया. पर वहीँ दूसरी और कुछ दम्पत्तियों के बीच फेसबुक अविश्वास उत्पन्न कर तलाक का कारण भी बन रहा है. 

कुल मिलाकर सोशल मीडिया की उपयोगिता इस बात पर निर्भर करती है कि उसे किस तरह से इस्तेमाल किया जाए. निजी स्तर पर सावधानीपूर्वक इसके इस्तेमाल के साथ ही बड़े पैमाने पर इसे सामाजिक सरोकारों से जोड़ने पर ही इसकी सकारात्मक शक्ति का अंदाजा लगाया जा सकता है.

फेसबुक एडिक्शन सिंड्रोम, आसपास के लोगों से दूर होना, सामाजिक गतिविधियों में कम भागीदारी, इन्टरनेट उपलब्ध ना होने पर बेचैनी, लाइक्स कम होने पर चिड़चिड़ापन, प्रसिद्धि बढ़ने पर आत्ममुग्धता, दूसरों के लाइक्स और कमेंट देखकर ईर्ष्या ये सब भी फेसबुक और सोशल मीडिया के साइड इफेक्ट्स हैं जिनसे बचना बेहद जरुरी है. सोशल मीडिया तनाव, वैमनस्य और अफवाहों के प्रसार का माध्यम नहीं बनना चाहिए. 

इन सबसे इतर अपनी आवाज़ को मुखर करने, अपराधियों के विरुद्ध दबाव निर्मित कर न्याय की लड़ाई लड़ने, आर्थिक मदद जुटाने, अपनी समस्यायों से दुनिया को अवगत कराने और उनका समाधान पाने की दिशा में आधी आबादी के लिए सोशल मीडिया एक अति महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है. इसके जरिये ना केवल न्याय की दिशा में देशव्यापी आन्दोलन किये जा सकते हैं बल्कि पुलिस, प्रशासन और सरकार को भी न्याय के पक्ष में अपनी कार्यवाही के लिए मजबूर किया जा सकता है. जरूरत बस यह है कि महिलाओं को सोशल मीडिया को इस्तेमाल करने के कारगर तरीके सीखने होंगे, क्योंकि सोशल मीडिया के इन साधनों से जुड़े जोखिम कम नहीं है. जरुरत सकारात्मक और संतुलित उपयोग की है.

By Monika Jain 'पंछी' 

How is this essay on social media and its impact on women? 

Wednesday, February 11, 2015

Poem on Zindagi in Hindi


Poem on Zindagi in Hindi Language, Life Struggle, Jeevan Sangharsh par Kavita, Jindagi, Sher O Shayari, Poetry, Rhyming Rhymes, Lines, Quotes, Muktak, Ghazal, Nazm, Composition, Suktiyan, Slogans, Geet, Lyrics, Quotations, Thoughts, Sms, Messages, Words, Nare, Statement, Proverbs, Sayings, Status, Song, ज़िन्दगी, जीवन संघर्ष पर हिंदी कविता, नज़्म, गज़ल, शेर ओ शायरी, नारे, नारा, गीत, मुक्तक, स्लोगन

(1)

चंद उम्र की ज़िन्दगी...

चंद उम्र की ज़िन्दगी हवा सी बेलगाम गुजरी
किसी मोड़ पर जश्न कहीं ये इंतकाम गुजरी.

ज़िंदगी को जीने की फुर्सत ही यहाँ कब मिली
कैसे जीना है सीखने में, उम्र ये तमाम गुजरी.

किसे खबर दिन भर का हासिल भी क्या रहा
फिर एक शब की जुगत में एक और शाम गुजरी.

चार दिन की ज़िंदगी में दो रात अपनी रही
एक उसकी याद में तो एक उसके नाम गुजरी.

एक कतरा ज़िंदगी में क्या पर्दा क्या झरोखा
होंगे तुम्हारे राजदार अपनी तो सरेआम गुजरी.

जिस्मानी घर में रूह की कितनी ही तफ़तीश की
रहकर गयी वो उम्र भर जाते हुए गुमनाम गुजरी.

By Malendra Kumar

(2)

ज़िन्दगी

एक सफ़र है ये, एक डगर है ये
एक मंज़िल है, एक शहर है ये
अलग मायने हैं इसके हर एक के लिये
किसी के लिए अमृत किसी के लिए ज़हर है ये.

कोई हँस कर तो कोई घुट-घुट कर जीता है
कोई सुधा तो कोई विष समझ कर पीता है
इत्मिनान से जीता है कोई ख़ुशनसीब यहाँ 
तो कोई इसके जख्मों को ताउम्र सीता है.

साहिल से टकराकर ना लौटने वाली लहर है ये
किसी के लिए अमृत तो किसी के लिए ज़हर है ये.

किसी के लिये काँटों भरी हर-एक गली है
तो किसी की हर-एक राह मखमली है
कोई समझे है इसे काँटों का एक ताज
तो किसी के लिए यह नाजुक-सी कली है.

किसी के लिए वर तो किसी पे कुदरत का कहर है ये
किसी के लिए अमृत तो किसी के लिए ज़हर है ये.

किसी का वीरान
तो किसी का खुबसूरती से बसा शहर है ये
अलग मायने हैं इसके हर एक के लिये
किसी के लिए अमृत तो किसी के लिए ज़हर है ये.

By Malendra Kumar

Thank you ‘Malendra’ for sharing such a meaningful poems about life/zindagi. 


Sunday, February 8, 2015

Sardar Vallabhbhai Patel Quotes in Hindi


Sardar Vallabhbhai Patel Quotes in Hindi Language, Vichar, Slogans, Suktiyan, Lines, Quotations, Thoughts, Sms, Messages, Teachings, Words, Updesh, Shiksha, Nare, Statement, Proverbs, Sayings, Words, Suvichar, Status, Anmol Vachan, Adarsh Vakya, सरदार वल्लभभाई पटेल के विचार, नारे, स्लोगन, उद्धरण, शिक्षा, उपदेश, सुविचार, अनमोल वचन, आदर्श वाक्य

Sardar Vallabhbhai Quotes 
  • पुराने दिनों का स्मरण करके भविष्य में भी विश्वास को खो बैठने का अर्थ है मानव प्रकृति में निहित शिवत्व की भावना में अविश्वास ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • सारी दुनिया किसान के आधार पर टिकी हुई है. दुनिया के आधार किसान और मजदूर है. फिर भी सबसे ज्यादा जुल्म कोई सहता है, तो ये दोनों ही सहते हैं, क्योंकि ये दोनों बेजुबान होकर अत्याचार सहन करते हैं ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • हम जो कुछ बोलें, उसमें बल होना चाहिए ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • जिसने ईश्वर को पहचान लिया उसके लिए तो दुनिया में कोई भी अछूत नहीं है. उसके मन में ऊँच-नीच का भेद नहीं है ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • हर एक भारतीय को अब यह भूल जाना चाहिए कि वह एक राजपूत है, एक सिख या जाट है. उसे यह याद होना चाहिए कि वह एक भारतीय है और उसे इस देश में हर अधिकार है, पर कुछ जिम्मेदारियां भी हैं ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • यह सच है कि पानी में तैरने वाले ही डूबते हैं, किनारे पर खड़े रहने वाले नहीं, मगर ऐसे लोग कभी तैरना भी नहीं सीख पाते ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • जिन्हें खुशामद ज्यादा प्रिय होती है, उन्हें सच्ची बात मीठी भाषा में भी कही जाए तो भी बहुत कड़वी लगती है ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
  • इस दुनिया में सत्ता के पीछे लगा हुआ सबसे बड़ा रोग कोई हो सकता है तो वह खुशामद है ~ सरदार वल्लभभाई पटेल / Sardar Vallabhbhai Patel
How are these hindi quotes of Sardar Vallabhbhai Patel? Feel free to share your views.


Saturday, February 7, 2015

Poem on Yellow Colour in Hindi


Poem on Yellow Colour in Hindi Language, Yellow Color Day, Colours, Peela Rang, Peet Varna, Basant Ritu, Spring Season, Kavita, Poetry, Sher O Shayari, Lines, Slogans, Sms, Messages, Rhyming Rhymes, Muktak, Ghazal, Nazm, Composition, Geet, Song, Lyrics, Quotes, Thoughts, Sayings, Words, Proverbs, Status, Statement, Nare, पीला रंग, पीत वर्ण, हिंदी कविता, नज़्म, गज़ल, शेर ओ शायरी, नारे, गीत, मुक्तक, स्लोगन
(१)

रंग पीला तेरे प्यार का 

हमारे प्रेम में समाये हैं सातों रंग 
और हर रंग देता है इसे एक नयी परिभाषा 
आजकल जी रहे हो तुम मुझमें 
बनकर पीले बसंत की आशा. 

तुम सादगी, सरलता और शुद्धता के प्रतीक 
मेरा इंतजार कि कोई हरारत हो 
तुम बन बहते ज्ञान के झरने 
और दिल करता है, कोई तो शरारत हो. 

तुम्हारे भेजे हर येलो स्माइली के साथ 
हवाएँ लेकर आती है पीले सरसों सी महक 
जिसे भर लेती है मेरी साँसें 
और खिल आती है होठों पर एक सुरीली सी चहक. 

तुम पीले गुलाब से निर्मल 
जिस पर ओस की बूँद बन मैं महक जाती हूँ 
सूरज सी तुम्हारी ऊर्जा और उमंग 
बन रोशनी तुम संग मैं कितना चहक जाती हूँ.

उत्साह और खुशियाँ बनकर 
हर रोज तुम द्वार मेरा खटखटाते हो 
सूरज की किरणें बन तुम 
कहीं दूर अँधेरा ले जाते हो.

प्रेम का ये पीला रंग सच!
सुकून और रोशनी का अहसास है 
हर पल लगता है जैसे 
तू यहीं मेरे आसपास है. 

(२) 

दूर तक फैली सरसों की चादर 
और शीतल हवाओं के झोंके 
लगता है जैसे तू गुजरा है 
अभी-अभी मेरे गालों को छू के.

(३)

खिलखिलाते गेंदे और ये सूरजमुखी प्यारे 
कोयल, तितलियाँ, भंवरे, डूबे हैं प्रेम में सारे 
प्रकृति का कण-कण लगता है कुछ न्यारा 
करता है मेरे जीवन में प्रेम का इशारा.

By Monika Jain ‘पंछी’ 

How is this hindi poem on yellow colour of love and spring? Feel free to share your views.

Sunday, February 1, 2015

Kitty Party Games in Hindi


Kitty Party Games in Hindi Language, Indian Kids Birthday Parties One Minute Easy Game to Play, Ideas for Ladies, Children, Girls, Adults, Toddler, Boys, Teenagers, Couples, Women, Fun, Family Functions, New Year Eve, Christmas, Wedding, Ladies Sangeet, Carnival, Interesting Funny Tips, Creative Themes 

Kitty Party Games Ideas
  • एक बाथ टब लें. उसे रंगीन पानी से भर दें. अब बाथ टब में बर्फ के बहुत सारे टुकड़े डाल दें. अब पानी में गुब्बारे, रबरबैंड्स, टूथब्रश, चूड़ियाँ, आर्टीफिशियल अंगूठियाँ, क्लॉथपिन्स, पत्थर के छोटे-छोटे टुकड़े आदि तरह तरह की कई चीजे डाल दें. अब एक मिनट में जो इस टब से सबसे ज्यादा एक ही तरह की वस्तुएं पानी में से निकालेगा वही गेम का विनर होगा. 
  • बहुत सी कॉटन बॉल्स लें. अब पार्टी में आये सभी मेहमानों को 5-6 सदस्यों के छोटे-छोटे ग्रुप्स में बाँट दे. सभी को गोलाकार में बैठने के लिए कहें. सभी को अलग-अलग एक छोटी कटोरी दे दें. जो गोला बनाया है उसमें कॉटन बॉल्स को बिखेर दें. अब सभी को चम्मच की सहायता से कॉटन बॉल्स कटोरी में डालने के लिए कहें. जो एक मिनट में सबसे ज्यादा कॉटन बॉल्स कटोरी में डाल पायेगा वही विजेता होगा. 
  • एक टोकरी लें. उसमें खूब सारे छिलके वाले फल और सब्जियां जैसे खीरा, आलू, सेब, शलजम आदि ले लें. अब मेहमानों में से जो चाकू की सहायता से एक मिनट में सबसे ज्यादा फल और सब्जियां छील देगा वही विजेता होगा. 
  • एक गोले में मेहमानों को बैठाएं और उनके सामने कई सारे ताले और चाबियाँ रख दें. अब जो एक मिनट में तालों की सही चाबी लगाकर सबसे ज्यादा ताले खोलेगा, वही विजेता होगा. 
  • एक टब को रेत से भर दें. अब रेत की उपरी सतह को हटाकर सफ़ेद मोतियों के साथ कुछ रंगीन मोती भी छिपा दें. अब मेहमानों से कहें कि वे रेत में से सफ़ेद मोती ढूंढकर दूसरे खाली टब में डालें. जो एक मिनट में सबसे ज्यादा मोती निकलेगा वही खेल का विजेता होगा. 
  • दो बाउल लें. एक में कई सारे रबर बैंड और दूसरे में सेफ्टी पिंस रखें. अब पार्टी में आये मेहमानों से सेफ्टी पिंस और रबर बैंड की सहायता से चेन बनाने को कहें. जो एक मिनट में सबसे लम्बी चेन बनाएगा वही विजेता होगा. 
  • एक मेज पर बहुत सारे पेपर नैपकिन रख दें. पार्टी में आये मेहमानों से कहें जो एक मिनट में सबसे ज्यादा पेपर की नाव सही ढंग से बनाएगा, वही विजेता होगा. इस गेम को बड़ों और बच्चों दोनों को ही खिलाया जा सकता है.
  • ढेर सारे रंग बिरंगे गुब्बारें ले लें. अब पार्टी में मौजूद सभी मेहमानों को दो-दो की टीम में बाँट दें. अब हर टीम को टब में रखे गुब्बारों से अपने पार्टनर को सजाने को कहें जैसे कानों, हाथों, पैरों आदि को. जो एक मिनट में अपने पार्टनर को सबसे अच्छे तरीके से सजाएगा वही विजेता होगा.
  • एक मेज पर दो बड़े कटोरे रखें. एक कटोरे में ढेर सारी जेम्स रखें और दूसरे को खाली छोड़ दें. अब पार्टी में उपस्थित मेहमानों को बारी-बारी से बुलाएँ और किसी भी एक रंग की जेम्स को चॉपस्टिक की सहायता से दूसरे खाली कटोरे में डालने को कहें. एक मिनट में जो सबसे ज्यादा जेम्स खाली कटोरे में डाल पायेगा, वही विजेता होगा. 
How are these games ideas for various family functions and parties? Feel free to share your views.