Sunday, August 21, 2016

Hypocrisy Quotes in Hindi

पाखण्ड, आडम्बर, ढोंग. Hypocrisy Quotes in Hindi. Religious Hypocrite, Double Dealing Standard, Pageantry, Pomp and Show, Dharmik Adambar, Pakhand, Dhong.

Hypocrisy Quotes

  • उसे नहीं पता था कि अच्छी किताबें सिर्फ मनोरंजन के लिए और अच्छे व्यक्तित्व सिर्फ पूजा के लिए होते हैं, अनुसरण के लिए नहीं। उसे नहीं पता था कि बड़ी-बड़ी बातें सिर्फ लिखने के लिए होती है, अमल करने के लिए नहीं। उसे नहीं पता था कि ऊपर से नीचे तक गहनों से लदी मूर्तियों के सामने फल और पकवानों से सजी थालियाँ लेकर पूजा करना हंसी का पात्र नहीं बनाता लेकिन आदर्शों, नैतिकता और मानवीय मूल्यों की बातें करना बना देता है। उसे नहीं पता था कि मूर्तियों के रूप में जिन आदर्शों की पूजा की जाती है, उन्हीं आदर्शों को वास्तविकता का जामा पहनाने वालों को मौत के घाट तक उतार दिया जाता है। सच! उसे नहीं पता था कि उसे कुछ भी नहीं पता। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • कितने लोग ऐसे हैं जो इस युग में उनके महानायकों और पूज्य पुरुषों के आ जाने पर उनके साथ या पीछे कंधे से कन्धा मिलकर चल पायेंगे? कभी-कभी तो लोगों की कट्टरता और राजनीति देखकर लगता है कि उनका महानायक सामने खड़ा हो तो वे उसे एक कोठरी में बंद करके कहेंगे...तुम्हारी कोई जरुरत नहीं बाबा यहाँ। तुम बस तुम्हारे मंदिर/मस्जिद में जाकर पत्थर बनकर बैठो। हम तुम्हारे लिए बस इतना कर सकते हैं कि रोज तुम्हें पूजा करेंगे। ~ Monika Jain ‘पंछी’  
  • जो चले गए...उनके नाम पर तो झगड़ना बंद करो। झगड़े के टॉपिक कम है क्या? जो चले गए उन्हें सही या गलत सिद्ध कर देने से...हम कभी सही सिद्ध नहीं हो जाते। उसके लिए सिर्फ हमारा ही पुरुषार्थ काम आने वाला है। हाँ एक ही काम अच्छा कर सकते हैं...उनके अच्छे विचारों का प्रसार। इतिहास बस सीख लेने जितना ही उपयोगी है...उससे ज्यादा जरा भी नहीं। करीब दो-तीन सालों पहले जब एक ग्रुप में किसी बन्दे ने महावीर पर भयंकर कटाक्ष किये, तब मेरी भी भावनाएं आहत हुई...तीव्र प्रतिक्रिया नहीं दी लेकिन मन खिन्न और उदास तो रहा ही कुछ समय। लेकिन सच यही था कि वह सिर्फ मेरा अहंकार था...मेरी पज़ेसिवनेस...उसे ही चोट पहुँची थी। लेकिन जब से महावीर को सही से जाना है तब से उन्हें कोई कुछ भी कह दे इतना फर्क नहीं पड़ता...पड़ना भी नहीं चाहिए। क्योंकि जो सच में महान थे उन्हें हमारी और से किये बचाव की रत्ती भर भी जरुरत नहीं है। बचाना है तो उनके विचारों को बचाओ। बाकी फर्जी का अनुयायी बनने से कोई लाभ नहीं। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • काल्पनिक कहानियों पर हमारे कीबोर्ड आंसुओं से भीग जाते हैं। खत्म हो चुकी असल दर्दनाक कहानियों पर भी हमारी पलकें भीग जाया करती है। लेकिन जो कहानियां जारी है...अपने दर्द, अपने संघर्ष, अपनी मजबूरियों के साथ...उनके सामने तो हम पत्थर को भी मात दे जाते हैं। कभी-कभी तो उस कहानी को भुगत रहे पात्र का सर फोड़ देने की हद तक...कैसे लोग हैं हम? ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • आज 'विश्व जल दिवस' है। मैंने सोचा आज जल संरक्षण पर एक कविता लिखूं, पर फिर सोचा आज लिखने वाले बहुत से हैं। मैं किसी और दिन लिखूंगी। जब हम आज के दिन कही बातें भूल जायेंगे। ~ Monika Jain ‘पंछी’

Feel free to add your views or more quotes about hypocrisy via comments.