Thursday, June 16, 2016

Superstition Quotes in Hindi

अन्धविश्वास, पूर्वाग्रह. Superstition Quotes in Hindi. Andhvishwas par Vichar, Superstitious Beliefs, Hallucination Slogans, Vagary, Preconception, Purvagrah.
 
Superstitions Quotes

  • कौन कहता है विज्ञान का विकास अंधविश्वासों पर प्रहार करता है। हमारे अंधविश्वास तो इतने ढीट हैं कि विज्ञान का सहारा लेकर आजकल वे भी आधुनिक हो गए हैं। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • मुझे तो कल क्या खाया था, ये ही याद नहीं रहता, ये निर्मल दरबार में आने वालों को सप्ताह और महीने भर पहले खाए हुए 'करी-चावल' और 'आलू के पराठें' कैसे याद रह जाते हैं? ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • नेपाल के गढ़ीमाई मेले में पांच लाख पशुओं की बलि। क्यों माँ शब्द को बदनाम करते हो अंधभक्तों! लानत है तुम्हारी ऐसी निर्लज्ज और असंवेद्य भक्ति पर। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • काफी समय से फेसबुक और अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कुछ ऐसे मेसेजेज का दौर चल रहा है, जिसमें सन्देश को 15-20 लोगों को फॉरवर्ड करने पर कुछ अच्छा होने और फॉरवर्ड ना करने पर कुछ बुरा होने की धमकी दी हुई होती है। यह दुखद और आश्चर्यजनक है कि हमारी पढ़ी लिखी युवा पीढ़ी भी धड़ल्ले से ऐसे मेसेजेज को फॉरवर्ड भी करती है। आप अगर अंधविश्वासों को खत्म करने में कोई योगदान नहीं कर सकते तो कम से कम उन्हें फलने-फूलने का अवसर तो न दें। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • हिन्दू धर्म के किसी अन्धविश्वास की बुराई करो तो मुस्लिम लोगों का दिल बाग़-बाग़ हो जाता है...इस्लाम के विरोध में कुछ लिखो तो हिन्दुओं की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहता। अरे भाइयों! यहाँ इस वाल पर एक की बुराई को दूसरे की तारीफ़ समझने की गलती तो कभी भी मत करना। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • किसी को भगवान या हैवान बनाने की इतनी जल्दी क्यों पड़ी है आप लोगों को? इंसान को इंसान बने रहने दीजिये...और कुछ काम तो करने दीजिये पहले। इतनी ज्यादा अपेक्षाओं के बोझ से मत लादिये कि उसके नीचे इंसान दब ही जाए। न तो इतना भजन कीर्तन कीजिये कि सबके सर पर बैठ कर नाचने लगे और न ही इतनी नफ़रत पालिए कि आपकी नफ़रत की आग में जल ही जाए। सहयोगी बनिए, आलोचक भी बनिए...पर कृपा करके अंधभक्त और अंधविरोधी न बनिए। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • सालों पहले कुछ पीले कागज या पोस्टकार्ड घर के बरामदे में यदा-कदा पड़े मिलते थे, जिनमें उन्हें छपवाकर या लिखकर 21, 51 या जाने कितने लोगों को बाँटने की लिखा होता था। बाँटने पर कुछ अच्छा और न बाँटने पर कोई दुष्परिणाम भुगतने की धमकी होती थी। आजकल फेसबुक पर कुछ पोस्ट्स या पिक्स को लाइक या शेयर करने पर बिल्कुल उसी तर्ज पर कोई चमत्कार होने की भविष्यवाणी होती है और न करने पर कुछ बुरा होने की धमक। मैं सोच रही हूँ...मुझसे बेहतर तो ये अन्धविश्वास हैं। इन्होंने भी कितनी प्रगति कर ली है। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • आरती-हवन से निकली आग, धुएं, आकाश में छाए बादलों, पेड़-पौधों, पत्थरों, चट्टानों आदि में अपने-अपने मन की आकृति देख लेना सामान्य बात है, लेकिन आश्चर्यचकित होकर उसका दैवीकरण संकीर्णता की उपज है। प्रकृति पहले से ही हमारे चारों ओर अनगिनत रूपों में अभिव्यक्त हो रही है, वह क्या कम आश्चर्य है? ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • लज्जा प्रकाश ग्रहण करने में नहीं होती, अन्धानुकरण करने में होती है। अविवेकपूर्ण ढंग से जो भी सामने पड़ गया, उसे सिर-माथे चढ़ा लेना, अंध भाव से अनुकरण करना, जातिगत हीनता का परिणाम है। ~ हजारी प्रसाद द्विवेदी / Hazari Prasad Dwivedi
 
How are these quotes about superstitions?