Tuesday, May 3, 2016

Freedom Quotes in Hindi

Freedom Quotes in Hindi. Independence Day Slogans, Liberty Sayings, Liberation Messages, Salvation Quotations, Azadi Sms, Mukti Vichar, Swatantrta, Moksh. आज़ादी, स्वतंत्रता, मुक्ति, मोक्ष, स्वाधीनता.
 
Freedom Quotes

  • लम्बे अरसे से उसके जीवन का हिस्सा बन चुके असहनीय दर्द में कुछ और दर्द मिश्रित होते रहे। उसके मन ही मन में कितने तूफ़ान उठते रहे, पर अब आसानी से नहीं तोड़ पाते मौन का सन्नाटा! कितने सारे प्रश्न…! न्याय की उम्मीद में अपने पक्ष को रखने वाले कितने सारे तर्क…! गलतफहमियों को दूर करने वाली कितनी सारी बातें…! हर रोज की घुटन जो खुलकर सांस लेना चाहती है...कुछ शिकायतें जिन्हें शब्दों की जरा सी मिठास चाहिए...सूख चुके आंसू जिन्हें नमी के लिए बस स्नेह भरी एक मुस्कान की जरुरत है...और कुछ मामूली सी गलतियाँ जो गंभीर अपराध सिद्ध हुई और जरुरत से ज्यादा सजा पा चुकी...मुक्त होना चाहती है अपने अपराध बोध से!... पर अब उसके दर्द का अहसास होठों तक पहुंचना भूल चुका है। और उसके मन की इस इच्छा को भी एक दिन समाप्त होना होगा कि कुछ भी कभी ठीक हो। क्योंकि सुख-दुःख, सफलता-असफलता, जीवन-मृत्यु इस स्केल पर आगे या पीछे जाने के लिए वह शायद बनी ही नहीं है। उसे तो शरीर और मन के तल की इन सारी क्षुद्र्ताओं से ऊपर उठना है। वही तो उसकी मंजिल है, जो उसे निरंतर आवाज़ देती है...पर दुनियावी शोर में वह अब तक उसे अनसुना करती आई है। क्योंकि वह जन्मी ही है मुक्त हो जाने को! ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • Even the later comments are affected by the former ones. :) तो सोचिये हम कितने ज्यादा प्रभाव में रहते हैं। फिर भी सोचते हैं कि हमारा कोई अलग से अस्तित्व है। प्रभावित होना बंधना है, अप्रभावित होना मुक्त हो जाना है। हमारे जीवन में 'वह पसंद है', 'वह नापसंद है' के सापेक्ष भाव जितने ज्यादा मिटने लगे... समझना उतने ही हम मुक्त होते जा रहे हैं और यह अनुभूति सच में सुखद है। जीवन को 'पसंद' और 'नापसंद' के खांचों में बांटने से ज्यादा जरुरी है, पूर्ण भागीदार बनते हुए भी...निरपेक्ष भाव से देखना! जिस दिन हम यह कर पायेंगे उस दिन हम प्रभाव में नहीं स्वभाव में स्थित होंगे। और स्वभाव में स्थित होना ही धर्म में अवस्थित होना है। ~ Monika Jain ‘पंछी’   
  • आज़ादी पर तो क्या कहूँ? बचपन में तो इस दिन का क्रेज सबसे ज्यादा इसलिए रहता था, क्योंकि बहुत सारे प्राइजेज मिलने होते थे और रोज के रूटीन से हटकर कुछ अलग होता था। पर धीरे-धीरे जब आज़ादी के मायने समझ आने लगे तो बात देश, काल, जगत सबकी सीमाओं से परे जाने लगी। ऐसे में आज़ादी महसूस कैसे हो? पर फिर भी कुछ न होने से हमेशा बेहतर होता है कुछ होना। इसलिए ख़ुश होने में क्या जाता है। आप सब को भी ढेर सारी शुभकामनाएं! ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • बस इतनी सी आज़ादी कि हमेशा यह याद न रखना पड़े कि मैं स्त्री हूँ...दोगे? ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
  • इस दुनिया में कौन आजाद है? वही बुद्धिमान व्यक्ति जो स्वयं पर नियंत्रण रख सकता है। ~ होरेस  
  • किसी के अनुग्रह की याचना करना अपनी स्वतंत्रता का वध करना है। ~ महात्मा गाँधी / Mahatma Gandhi  
  • आज़ादी के लिए कोई कीमत बड़ी नहीं. उस पर वतन भी न्यौछावर होता है। ~ यशपाल / Yashpal 
  • परतंत्रता से अधिक दुखदायी कोई वस्तु नहीं हो सकती, और न ही स्वतंत्रता से अधिक सुखदायिनी कोई वस्तु। ~ क्वालर्स
 
How are these quotes about freedom?