Monday, June 20, 2016

Criticism Quotes in Hindi

आलोचना, आलोचक, विरोधी, विरोध. Criticism Quotes in Hindi. Alochana, Being Judgemental, Criticize, Critical Analysis, Criticizing, Condemnation, Opposing, Opponent.

Criticism Quotes

    • शब्दों से इतना भी क्या प्रेम कि किसी बात का विरोध हम वही बात कहकर कर दें, बस जरा से शब्दों के हेर-फेर के साथ। ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • यदि आपकी किसी जाति, गौत्र या धर्म विशेष (सामान्यतया जो आपको जन्म से मिला है) के प्रति आसक्ति, गहरा लगाव या कट्टरता है तो आप एकतरफा आलोचना के शिकार हो सकते हैं...लेकिन यदि नहीं है तो आप दो तरफ़ा आलोचना के शिकार होते हैं। :) ~ Monika Jain ‘पंछी’
    • हमारा अहंकार इतना घनीभूत है कि वह बुद्ध पुरुषों को भी पलायनवादी कह देता है। :) ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • कोई किसी एक अच्छे स्तर तक अच्छा है, समझदार है...तो उस पर और अधिक अच्छा और समझदार बनने की अपेक्षाओं और आलोचनात्मक दृष्टिकोण का इतना ज्यादा बोझ और फ़िल्टर मत डालिए कि उसके लिए जीना ही मुश्किल हो जाए। फिर आप ही में से कोई कहते मिलेगा : अच्छे लोगों को भगवान अपने पास इतना जल्दी क्यों बुला लेते हैं? ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • कोई भी व्यवस्था परफेक्ट नहीं हो सकती समय के अनुरूप उसे बदलने के लिए आवश्यक फेल्क्सिबिलिटी होनी ही चाहिए लेकिन किसी भी व्यवस्था पर हम सवाल उठाये उससे पहले हमारे पास उससे बेहतर और स्पष्ट विकल्प होना चाहिए, या फिर चर्चाएँ उस बेहतर विकल्प को खोजने के लिए हो सकती है लेकिन जब सब बाँवरे होकर बस शिकायतें, आलोचना और व्यंग्य करने लगते हैं तो वे बस जो है उसे भी बिगाड़ने में योगदान दे रहे होते हैं समाधान चाहिए तो समस्या से ज्यादा समाधानों पर बात करना जरुरी है।...और समाधानों पर बात करने के लिए व्यक्तिगत हितों से थोड़ा ऊपर उठना ही पड़ेगा ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • कुछ लोग तो बड़े ही अद्भुत होते हैं - लड़के पे लिखा तो कहते हैं लड़की पे क्यों नहीं लिखा, लडकियाँ भी तो ऐसा करती है। लड़की पे लिखा तो कहेंगे लड़के के बारे में क्यों नहीं लिखा, लड़कों के साथ भी तो ऐसा होता है हिन्दू-मुस्लिम वाली बात तो आप सबको पता ही है किसी राजनैतिक पार्टी विशेष पर लिख देने की गलती अभी तक हुई नहीं, वर्ना उसके भी परिणाम पता है अब मैं उन्हें कैसे समझाऊं कि सारे ब्रह्माण्ड के इश्यूज मैं एक 4-5 लाइन्स के स्टेटस में नहीं डाल सकती गागर में सागर भरना आ भी जाए...पर ये सागर के साथ-साथ व्हेल, डॉलफिन, मगरमच्छ, कछुएँ, जलपरी, समुद्री घोड़ा आदि-आदि इन सबको कैसे डालूँ? और इनको भी डाल दिया तो कहेंगे कि हाथी, अजगर, हिरन, शेर, मोर, बकरी...आदि इन सबको क्यों छोड़ दिया? ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • प्रतीकात्मक आलोचना करते समय बहुत सतर्क रहने की आवश्यकता है क्योंकि होता यूँ हैं कि प्रतीकों के इतने अर्थ निकलते हैं कि कोई एक अर्थ खुद आलोचक पर ही फिट बैठ जाता है :p ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • वह जो सिर्फ असहमतियों के लिए प्रकट होता था
      वह जो सिर्फ आलोचना की गुंजाइश देखता था
      वह जो सिर्फ विरोध के अवसर ढूंढता था
      उसका विरोध विचारों से नहीं मुझसे था। (बहरहाल आलोचनाएँ हँसा भी सकती है।) ~ Monika Jain ‘पंछी’ 
    • मौसम से हम एक सीख ले सकते हैं, वह आलोचना पर कभी ध्यान नहीं देता ~ नॉर्थ डिकाल्ब / North Dekalb 
    • विरोधियों के प्रति उदार बनें ~ रेकी दर्शन


    Feel free to add your views or more quotes about criticism via comments.