Monday, July 4, 2016

Diabetes Home Remedies in Hindi

डायबिटीज घरेलु उपचार, मधुमेह का इलाज. Diabetes Home Remedies in Hindi. Madhumeh Ka Upchar, Gharelu Nuskhe, Ayurvedic Ilaj. Sugar Control Natural Treatment.
 
Diabetes Home Remedies

  • डायबिटीज रोगियों के लिए बैलेंस्ड डाइट बहुत जरुरी है। दिन में तीन से चार बार करके उन्हें थोड़ा-थोड़ा खाना चाहिए और प्रोटीन व कार्बोहाइड्रेट का अच्छा कॉम्बिनेशन लेना चाहिए। कार्बोहाइड्रेट से शुगर जल्दी बनती है और प्रोटीन शुगर को धीरे-धीरे रिलीज़ करता है जिससे पेट अधिक समय तक भरा रहता है और अधिक खाने से बच जाते हैं। 
  • डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए सुबह दस ताजे करी पत्तों का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। 
  • नीम की कच्ची कोंपल या नीम की पत्तियों की सुखाकर बनाया गए चूर्ण का सेवन भी डायबिटीज में उपयोगी है।  
  • कच्चा करेला छाया में सुखाकर पीस लें। सुबह भूखे पेट ताजे पानी के साथ 4-5 ग्राम चूर्ण का सेवन करना चाहिए। चिकनी और बादी वस्तुओं का सेवन नहीं करना चाहिए। 
  • आम के पत्तों को एक गिलास पानी में उबालकर रातभर रख दें व सुबह छानकर खाली पेट सेवन करना मधुमेह में लाभकारी रहता है।  
  • जामुन की गुठलियों को सुखाकर, पीसकर सेवन करने से मधुमेह नियंत्रित होती है। 
  • एक से दो चम्मच मेथी रात में एक गिलास पानी में भिगोकर सुबह भूखे पेट खाने से मधुमेह नियंत्रित होती है। मेथी की सब्जी का सेवन भी किया जा सकता है।  
  • गेहूं, जौ, चने के आटे को मिलाकर बनायी गयी रोटी, प्याज, लहसुन आदि का सेवन मधुमेह में उपयोगी रहता है।  
  • फाइबर युक्त पदार्थों का सेवन लाभकारी रहता है। जैसे चोकर युक्त गेहूं का आटा, लोबिया, राजमा, स्प्राउट्स आदि का सेवन करना चाहिए। स्प्राउट्स में एंटीऑक्सीडेंट भी अच्छी मात्रा में होते हैं। 
  • दिन भर में मुट्ठी भर ड्राईफ्रूट्स का सेवन किया जा सकता है। 
  • घीया, करेला, खीरा, टमाटर, आंवला, एलोवीरा आदि का जूस फायदेमंद है।  
  • लो फैट दही और स्किम्ड/डबल टोंड दूध का सेवन करना चाहिए। ग्रीन टी पीना भी लाभदायक है।चाय के साथ हाई फाइबर फीके बिस्किट ले सकते हैं। 
  • जौ, सोया, राजमा, काला चना, ब्राउन राइस, मुंग की दाल और जामुन आदि का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है अत: ये लाभकारी हैं। ये पित्त के इमबैलेंस को भी कम करते हैं। 
  • उपरोक्त बताई गयी विविध चीजों को एक साथ न लेकर बदल-बदलकर सेवन करते रहना चाहिए व ब्लड शुगर की नियमित अन्तराल पर जांच करवाते रहना चाहिए।  
  • चीनी, गुड़, गन्ना, चॉकलेट, शहद, केक, आइसक्रीम, पेस्ट्री आदि मीठी चीजों के सेवन से बचना चाहिए। तली-भुनी चीजों से भी परहेज करना चाहिए। 
  • मक्के का आटा, मैदा, सूजी, सफ़ेद चावल, वाइट ब्रेड, नूडल्स, पिज्जा, बिस्किट आदि के सेवन से बचना चाहिए। क्योंकि इनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्यादा होता है। जिससे ये जल्द ही ग्लूकोज में बदल जाती हैं और बॉडी में शुगर लेवल एकदम बढ़ जाता है। इन्सुलिन के लिए अचानक बढ़े शुगर को नियंत्रित कर पाना मुश्किल होता है।  
  • फल जैसे आम, अंगूर, केला, चीकू, पाइनएप्पल, शरीफा आदि में शुगर अधिक होती है, इसलिए इनसे परहेज करना चाहिए। 
  • सब्जियाँ जैसे आलू, कटहल, अरबी, शकरकंद, चुकन्दर आदि में स्टार्च और कार्बोहाइड्रेट की काफी मात्रा होती है। इन्हें उबालकर खाना तो ठीक है लेकिन फ्राई करके नहीं खाया जाना चाहिए। 
  • फलों के ज्यूस में शुगर की मात्रा बहुत अधिक होती है, इसलिए जूस के बजाय सीधे फल खाना बेहतर है। पैक्ड जूस से तो पूरा परहेज करना चाहिए।

Note : Consult your doctor before using any remedy stated here. If you are also aware about some more home remedies regarding diabetes then feel free to share here via comments.