Monday, January 16, 2017

Funny Quotes in Hindi

चुटकुले, हास्य उद्धरण. Funny Quotes in Hindi. Comic Dialogues, Laughing Status, One Liners Jokes, Comedy Lines, Laughter Messages, Sayings, Comments, Sentences.
Funny Quotes in Hindi
Funny Quotes

  • 'स्टेप हेयर कट' के लिए माँ कहती है - चूहों ने बाल कुतर दिए हो जैसे। :p ~ Monika Jain ‘पंछी’ (11/01/2016) 
  • बच्चे के रूप में करीब-करीब ईश्वर ही जन्म लेता है। फिर माता-पिता और समाज उसे बिगाड़ने का कार्य करते हैं। :p ~ Monika Jain ‘पंछी’ (29/12/2016) 
  • कुछ लोगों को आपकी पोस्ट्स इतनी पसंद आती है, इतनी पसंद आती है, इतनी पसंद आती है कि वे उसे अपनी ही बना लेते हैं। उनके लिए यह स्वीकार करना संभव ही नहीं होता कि यह उन्होंने नहीं लिखी है। :) ~ Monika Jain ‘पंछी’ (21/12/2016) 
  • एक ज़माने में मैं इतनी बुद्धू थी (अभी भी कम नहीं :p ) कि एक दोस्त ने मेरे मजे लेने के लिए मुझसे कहा, 'हमारे यहाँ पर बेस्ट फ्रेंड को मुर्गीचोर कहा जाता है।' मैंने थोड़ा संदेह जताया तो उसने कहा, 'चाहो तो किसी और से पूछ लो!' और मैं आराम से वहीँ पर रहने वाले एक कॉमन फ्रेंड से पूछ भी आई कि क्या आपके यहाँ बेस्ट फ्रेंड को मुर्गीचोर कहते हैं? ~ Monika Jain ‘पंछी’ (27/09/2016) 
  • अपने घर में मैं नास्तिक समझी जाती हूँ। मेरी जन्मकुंडली में लिखा है मैं बहुत बड़ी धर्मात्मा बनूँगी और यहाँ फेसबुक पर शायद आध्यात्मिक समझते हैं मित्र। और फिर मैंने इनमें से कुछ भी बनना कैंसिल कर दिया। :p :) ~ Monika Jain ‘पंछी’ (30/08/2016)  
  • मित्र के सालों पुराने नंबर पर कॉल करने...जो कुछ सालों तक बंद रहकर अब किसी ख़तरनाक लड़की :p का नंबर हो चुका हो। जहाँ सामने वाली आपको कोई और लड़की (रिमझिम) समझ रही है (जिससे उसका 36 का आँकड़ा है शायद) और आप उसे मित्र की वाइफ समझ कर बहुत सहजता से बात कर रहे हैं। तब इस ख़तरनाक ग़लतफ़हमी के बीच कुछ अज़ब वार्तालाप के साथ-साथ उसका कहना, 'देखो! तुम इतनी ज्यादा स्वीट मत बनो।'...मुझे रह-रहकर अभी तक हंसी आ रही है। :D अच्छी-खासी आवाज़ का इस तरह से कचरा भी हो सकता है। :'( मन कर रहा था उसे कह दूँ, मैं स्वीट बन नहीं रही...आलरेडी स्वीट हूँ। :p ;) ~ Monika Jain ‘पंछी’ (21/08/2016) 
  • हमारी शिक्षा प्रणाली इतनी बोरिंग है कि बच्चे यह तक कहते पाए जाते हैं कि काश! बाढ़ आ जाए तो स्कूल ही नहीं जाना पड़ेगा। :D ~ Monika Jain ‘पंछी’ (04/09/2016)  
  • बच्चों का स्वागत और बच्चों द्वारा स्वागत आज भी दरवाजे के पीछे छिपकर 'हो' से ही होता है। :p :) ~ Monika Jain ‘पंछी’ (18/08/2016)  
  • जिन्हें शब्दों से अति प्रेम हो या फिर जिनके लिए चर्चा सिर्फ हार या जीत का प्रश्न हो उनके साथ चर्चा में पड़ना मतलब ’आ बैल मुझे मार!’ :p ~ Monika Jain ‘पंछी’ (01/12/2015)  
  • किचन एक्सपेरिमेंट के नाम पर किसी ने कहा, 'आप आलू-मुर्गा बना लो।' हमने कहा, 'आलू हम बना लेंगे, आप मुर्गा बन जाना।' :o :p ~ Monika Jain ‘पंछी’ (07/12/2015)  
  • काहें का 'फ्रीडम 251'! सबको तो गुलाम बना छोड़ा है। इत्ते तो अभी शक्ल भी नहीं देखी ढंग से। अफवाहों का बाज़ार भी गर्म है। वैसे टेंशन न लो कोई। कुछ ठीक न रहा तब भी बच्चों के खेलने के काम तो आ ही जाएगा। :p ~ Monika Jain ‘पंछी’ (19/02/2016) 
  • न सोयेंगे और न सोने देंगे वाले प्राणियों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही है। :’( ~ Monika Jain ‘पंछी’ (07/11/2016)